Connect with us

Crime

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में अदालत ने खारिज की क्रिश्चियन मिशेल की जमानत याचिका

Published

on

दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड मामले के कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल की जमानत याचिका को खारिज कर दिया है। अदालत ने सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मामलों में मिशेल की जमानत खारिज की है। इससे पहले ब्रिटिश नागरिक मिशेल की जमानत याचिका पर जवाब देने के लिए सीबीआई और ईडी ने 20 अगस्त को एक हफ्ते का समय मांगा था।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Crime

लॉकडाउनः दिल्ली पुलिस #COVID19#lockdown ड्यूटी में चोरो का गिरोह चोरी में एक्टिव

Published

on

लॉकडाउनः दिल्ली पुलिस #COVID19#lockdown ड्यूटी में चोरो का गिरोह चोरी में एक्टिव

Continue Reading

Crime

रवीना टंडन, भारती सिंह और फराह ख़ान के खिलाफ पंजाब में केस दर्ज, जानें पूरा मामला

Published

on

जेएनएन, अमृतसर। फिल्म अभिनेत्री रवीना टंडन, कॉमेडियन भारती सिंह और फिल्म निर्माता फराह ख़ान के खिलाफ पंजाब में केस दर्ज किया गया है। धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में इन सेलेब्स के ऊपर यह मामला दर्ज किया गया है। अमृतसर जिले के तहत अजनाला पुलिस ने बुधवार रात केस दर्ज किया है।

आरोप है कि तीनों ने कुछ दिन पहले एक चैनल पर एक समुदाय विशेष के खिलाफ अपशब्द कहे थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (देहाती) विक्रम दुग्गल ने बताया कि कुछ संगठनों ने इसकी शिकायत की। इसके आधार पर रवीना टंडन सहित तीनों सेलेब्स पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

फराह खान के एक शो में भारती सिंह और रवीना टंडन को एक अंग्रेजी अक्षर की स्पेलिंग लिखने के लिए कहा गया था। यह शब्द पवित्र धार्मिक ग्रंथ से लिया गया था। भारती इसका मतलब नहीं जानती थीं। उन्होंने अपनी तरफ से ही इसका मतलब बताते हुए इसका मजाक उड़ाया। रवीना और फराह भी उनके इस मजाक में शामिल हुईं और उन्हें मजाक उड़ाने से नहीं रोका।

बता दें कि रवीना टंडन लंबे समय से फिल्मों से दूर हैं, लेकिन छोटे पर्दे पर काफी सक्रिय हैं। हाल ही में उन्होंने डांस रिएलिटी शो ‘नच बलिए’ के सीज़न 9 को जज किया था। इसके अलावा भारती सिंह भी टीवी पर काफी सक्रिय हैं। वह कपिल शर्मा के शो में नजर आती हैं। इसके अलावा वह कई और शोज़ में बतौर होस्ट या कॉमेडियन नजर आती रहती हैं।

फराह खान ने इस साल दो फ़िल्मों के साथ बतौर कोरियोग्राफर काम किया है। वह स्टूडेंट्स ऑफ़ दी इयर 2 और हाउसफुल 4 के साथ बतौर कोरियोग्राफर जुड़ी थीं। इसके अलावा वह छोटे पर्दे पर भी नजर आईं। बी़ते दिनों ये खबर भी आई थी कि फराह बिग बॉस 13 को होस्ट कर सकती हैं। वह सलमान ख़ान की जगह ले सकती हैं। हालांकि, सलमान शो छोड़ेंगे या फराह उनकी जगह लेंगी, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

Continue Reading

Crime

आसाराम के बेटे नारायण साईं को 30 अप्रैल को सजा का ऐलान, रेप केस में हुए दोषी करार

Published

on

शुक्रवार को आसाराम बापू के बेटे नारायण सांई को सूरत की सेशंस कोर्ट ने
रेप केस में दोषी करार दिया है, 30 अप्रैल को नारायण साईं की सजा का ऐलान
होगा। सूरत की कोर्ट ने वहां रहने वाली दो बहनों के जरिए लगाए गए बलात्कार
के आरोप में और लोकेशन से मिले सबूतों के आधार पर नारायण सांई को दोषी करार
दिया है। करीब 11 साल से दोनो बाप बेटे यानी आसाराम और नारायण सांई पर ये
रेप का केस चल रहा है।
दोनों पीड़िता बहनों ने इस केस में ठोस सबूतों और लोकेशन की पहचान की है।
नारायण साईं के खिलाफ छोटी बहन ने ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की
जबकि आसाराम बापू के खिलाफ बड़ी बहन ने मामला दर्ज करवाया था। गांधीनगर के
कोर्ट में आसाराम के खिलाफ मामला चल रहा है तो वहीं 53 गवाहों का बयान
नारायण साईं के खिलाफ कोर्ट में बयान दर्ज किया जा चुका है। इन गवाहों में
कई अहम गवाह भी मौजूद है कुछ ऐसे है जिन्होने एक समय में नारायण साईं को
लड़कियों को अपना शिकार बनाते हुए देखा था या फिर उसकी मदद की थी, लेकिन अब
वही लोग गवाह बन गए हैं।
रेप कैस का मामला दर्ज होते ही नारायण साईं (एफआईआर) अंडरग्राउंड हो गया
था। वह पुलिस से बचकर लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था। सूरत के पुलिस
कमिश्नर राकेश अस्थाना ने नारायण साईं को गिरफ्तार करने के लिए 58 अलग-अलग
टीमें बनाई और तलाशी शुरू कर दी थी।
एफआईआर दर्ज होने के करीब दो महीने बाद दिसंबर, 2013 में नारायण साईं
हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के वक्त
नारायण साईं ने सिख व्यक्ति का भेष धर रखा था। खुद को कृष्ण का रूप बाताने
वाले नारायण साईं की गिरफ्तारी के बाद उसके कृष्ण की तरह महिलाओं के बीच
बांसुरी बजाने के कई वीडियो भी सामने आए थे।
नारायण साईं पर जेल में रहते हुए पुलिस कर्मचारी को 13 करोड़ रुपये की
रिश्वत देने का भी आरोप लगा था, लेकिन इस मामले में नारायण साईं को जमानत
तो मिल चुकी है लेकिन रेप के मामले में अभी भी कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

आसाराम के बेटे नारायण साईं को 30 अप्रैल को सजा का ऐलान, रेप केस में हुए
दोषी करार
शुक्रवार को आसाराम बापू के बेटे नारायण सांई को सूरत की सेशंस कोर्ट ने
रेप केस में दोषी करार दिया है, 30 अप्रैल को नारायण साईं की सजा का ऐलान
होगा। सूरत की कोर्ट ने वहां रहने वाली दो बहनों के जरिए लगाए गए बलात्कार
के आरोप में और लोकेशन से मिले सबूतों के आधार पर नारायण सांई को दोषी करार
दिया है। करीब 11 साल से दोनो बाप बेटे यानी आसाराम और नारायण सांई पर ये
रेप का केस चल रहा है।
दोनों पीड़िता बहनों ने इस केस में ठोस सबूतों और लोकेशन की पहचान की है।
नारायण साईं के खिलाफ छोटी बहन ने ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की
जबकि आसाराम बापू के खिलाफ बड़ी बहन ने मामला दर्ज करवाया था। गांधीनगर के
कोर्ट में आसाराम के खिलाफ मामला चल रहा है तो वहीं 53 गवाहों का बयान
नारायण साईं के खिलाफ कोर्ट में बयान दर्ज किया जा चुका है। इन गवाहों में
कई अहम गवाह भी मौजूद है कुछ ऐसे है जिन्होने एक समय में नारायण साईं को
लड़कियों को अपना शिकार बनाते हुए देखा था या फिर उसकी मदद की थी, लेकिन अब
वही लोग गवाह बन गए हैं।
रेप कैस का मामला दर्ज होते ही नारायण साईं (एफआईआर) अंडरग्राउंड हो गया
था। वह पुलिस से बचकर लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था। सूरत के पुलिस
कमिश्नर राकेश अस्थाना ने नारायण साईं को गिरफ्तार करने के लिए 58 अलग-अलग
टीमें बनाई और तलाशी शुरू कर दी थी।
एफआईआर दर्ज होने के करीब दो महीने बाद दिसंबर, 2013 में नारायण साईं
हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के वक्त
नारायण साईं ने सिख व्यक्ति का भेष धर रखा था। खुद को कृष्ण का रूप बाताने
वाले नारायण साईं की गिरफ्तारी के बाद उसके कृष्ण की तरह महिलाओं के बीच
बांसुरी बजाने के कई वीडियो भी सामने आए थे।
नारायण साईं पर जेल में रहते हुए पुलिस कर्मचारी को 13 करोड़ रुपये की
रिश्वत देने का भी आरोप लगा था, लेकिन इस मामले में नारायण साईं को जमानत
तो मिल चुकी है लेकिन रेप के मामले में अभी भी कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

आसाराम के बेटे नारायण साईं को 30 अप्रैल को सजा का ऐलान, रेप केस में हुए
दोषी करार
शुक्रवार को आसाराम बापू के बेटे नारायण सांई को सूरत की सेशंस कोर्ट ने
रेप केस में दोषी करार दिया है, 30 अप्रैल को नारायण साईं की सजा का ऐलान
होगा। सूरत की कोर्ट ने वहां रहने वाली दो बहनों के जरिए लगाए गए बलात्कार
के आरोप में और लोकेशन से मिले सबूतों के आधार पर नारायण सांई को दोषी करार
दिया है। करीब 11 साल से दोनो बाप बेटे यानी आसाराम और नारायण सांई पर ये
रेप का केस चल रहा है।
दोनों पीड़िता बहनों ने इस केस में ठोस सबूतों और लोकेशन की पहचान की है।
नारायण साईं के खिलाफ छोटी बहन ने ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की
जबकि आसाराम बापू के खिलाफ बड़ी बहन ने मामला दर्ज करवाया था। गांधीनगर के
कोर्ट में आसाराम के खिलाफ मामला चल रहा है तो वहीं 53 गवाहों का बयान
नारायण साईं के खिलाफ कोर्ट में बयान दर्ज किया जा चुका है। इन गवाहों में
कई अहम गवाह भी मौजूद है कुछ ऐसे है जिन्होने एक समय में नारायण साईं को
लड़कियों को अपना शिकार बनाते हुए देखा था या फिर उसकी मदद की थी, लेकिन अब
वही लोग गवाह बन गए हैं।
रेप कैस का मामला दर्ज होते ही नारायण साईं (एफआईआर) अंडरग्राउंड हो गया
था। वह पुलिस से बचकर लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था। सूरत के पुलिस
कमिश्नर राकेश अस्थाना ने नारायण साईं को गिरफ्तार करने के लिए 58 अलग-अलग
टीमें बनाई और तलाशी शुरू कर दी थी।
एफआईआर दर्ज होने के करीब दो महीने बाद दिसंबर, 2013 में नारायण साईं
हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के वक्त
नारायण साईं ने सिख व्यक्ति का भेष धर रखा था। खुद को कृष्ण का रूप बाताने
वाले नारायण साईं की गिरफ्तारी के बाद उसके कृष्ण की तरह महिलाओं के बीच
बांसुरी बजाने के कई वीडियो भी सामने आए थे।
नारायण साईं पर जेल में रहते हुए पुलिस कर्मचारी को 13 करोड़ रुपये की
रिश्वत देने का भी आरोप लगा था, लेकिन इस मामले में नारायण साईं को जमानत
तो मिल चुकी है लेकिन रेप के मामले में अभी भी कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

शुक्रवार को आसाराम बापू के बेटे नारायण सांई को सूरत की सेशंस कोर्ट ने
रेप केस में दोषी करार दिया है, 30 अप्रैल को नारायण साईं की सजा का ऐलान
होगा। सूरत की कोर्ट ने वहां रहने वाली दो बहनों के जरिए लगाए गए बलात्कार
के आरोप में और लोकेशन से मिले सबूतों के आधार पर नारायण सांई को दोषी करार
दिया है। करीब 11 साल से दोनो बाप बेटे यानी आसाराम और नारायण सांई पर ये
रेप का केस चल रहा है।
दोनों पीड़िता बहनों ने इस केस में ठोस सबूतों और लोकेशन की पहचान की है।
नारायण साईं के खिलाफ छोटी बहन ने ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की
जबकि आसाराम बापू के खिलाफ बड़ी बहन ने मामला दर्ज करवाया था। गांधीनगर के
कोर्ट में आसाराम के खिलाफ मामला चल रहा है तो वहीं 53 गवाहों का बयान
नारायण साईं के खिलाफ कोर्ट में बयान दर्ज किया जा चुका है। इन गवाहों में
कई अहम गवाह भी मौजूद है कुछ ऐसे है जिन्होने एक समय में नारायण साईं को
लड़कियों को अपना शिकार बनाते हुए देखा था या फिर उसकी मदद की थी, लेकिन अब
वही लोग गवाह बन गए हैं।
रेप कैस का मामला दर्ज होते ही नारायण साईं (एफआईआर) अंडरग्राउंड हो गया
था। वह पुलिस से बचकर लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था। सूरत के पुलिस
कमिश्नर राकेश अस्थाना ने नारायण साईं को गिरफ्तार करने के लिए 58 अलग-अलग
टीमें बनाई और तलाशी शुरू कर दी थी।
एफआईआर दर्ज होने के करीब दो महीने बाद दिसंबर, 2013 में नारायण साईं
हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के वक्त
नारायण साईं ने सिख व्यक्ति का भेष धर रखा था। खुद को कृष्ण का रूप बाताने
वाले नारायण साईं की गिरफ्तारी के बाद उसके कृष्ण की तरह महिलाओं के बीच
बांसुरी बजाने के कई वीडियो भी सामने आए थे।
नारायण साईं पर जेल में रहते हुए पुलिस कर्मचारी को 13 करोड़ रुपये की
रिश्वत देने का भी आरोप लगा था, लेकिन इस मामले में नारायण साईं को जमानत
तो मिल चुकी है लेकिन रेप के मामले में अभी भी कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement

Trending