Connect with us

Amir

लोकसभा चुनाव में पहली बार वोटिंग मशीनों पर उम्मीदवारों की फोटो, ईवीएम की जीपीएस से ट्रैकिंग होगी

Published

on

  • पहली बार सोशल मीडिया पर प्रचार का खर्च भी प्रत्याशी के चुनावी खर्चे में जुड़ेगा
  • · 10 लाख पोलिंग बूथ होंगे, पहली बार देशभर में वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल होगा

नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने रविवार को लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया। 2019 लोकसभा चुनाव में मतदान के लिए 10 लाख बूथ बनाए जाएंगे। सभी पर वोटर वेरीफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) का इस्तेमाल होगा। यह पहला मौका है जब देशभर में सभी बूथों पर वीवीपैट का इस्तेमाल होगा। प्रत्याशियों के एक जैसे नाम से वोटर भ्रमित न हों इसलिए वोटिंग मशीन पर पार्टी के नाम और चिन्ह के साथ ही उम्मीदवारों की फोटो भी होगी। इस बार लोकसभा चुनाव में 90 करोड़ वोटर होंगे। इनमें 8.43 करोड़ नए वोटर हैं। कुल वोटरों में 1.5 करोड़ 18-19 साल की उम्र के मतदाता हैं।

मॉनिटरिंग कमेटी में सोशल मीडिया एक्सपर्ट भी शामिल होंगे
लोकसभा चुनाव में पहली बार सोशल मीडिया एक्सपर्ट मीडिया सर्टिफिकेशन और मॉनिटरिंग कमेटी का हिस्सा होंगे। प्रत्याशियों को सोशल मीडिया अकाउंट और उसपर प्रचार में खर्च राशि की जानकारी देनी होगी। सोशल मीडिया पर खर्च राशि को प्रत्याशियों के चुनावी खर्चे में जोड़ा जाएगा। अरुणाचल, गोवा और सिक्किम को छोड़कर अन्य सभी राज्यों के प्रत्याशी चुनाव में 70 लाख रुपए खर्च कर सकेंगे। वहीं, इन तीनों में राज्यों में यह राशि 54 लाख रुपए है।

ईवीएम ले जाने वाले वाहनों में लगेगा जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि ईवीएम पर कड़ी नजर रखी जाएगी। इसके लिए मशीनों को ट्रैक करने के लिए इन्हें लाने-ले जाने वाले सभी वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाया जाएगा। हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में इसको लेकर शिकायतें मिली थीं। लोकसभा चुनाव के लिए हेल्पलाइन नंबर-1950 होगा। मोबाइल पर ऐप के जरिए भी आयोग को आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दी जा सकती है और 100 मिनट के भीतर आयोग के अधिकारी को इस पर एक्शन लेना होगा। शिकायतकर्ता की निजता का ख्याल रखा जाएगा।

बिना पैनकार्ड उम्मीदवारों का नामांकन रद्द होगा
चुनाव आयोग के मुताबिक, इस बार लोकसभा चुनाव में सभी प्रत्याशियों को न केवल पिछले पांच साल की आय का ब्यौरा देना होगा, बल्कि पैन कार्ड भी देना अनिवार्य होगा। अगर कोई उम्मीदवार पैनकार्ड नहीं देता तो उसका नामांकन रद्द कर दिया जाएगा। साथ ही उम्मीदवारों को विदेश में मौजूद संपत्ति की भी जानकारी देनी होगी। इस बार फॉर्म 26 में सभी जानकारियां भरनी होंगी, नहीं तो उम्मीदवारी रद्द हो जाएगी।

क्या है वीवीपैट?
इसके तहत ईवीएम से प्रिंटर की तरह एक मशीन अटैच की जाती है। वोट डालने के 10 सेकंड बाद इसमें से एक पर्ची बनती है, इस पर जिस उम्मीदवार को वोट दिया है उसका नाम और चुनाव चिन्ह होता है। यह पर्ची सात सेकंड तक दिखती है, इसके बाद मशीन में लगे बॉक्स में चली जाती है। इस मशीन को भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड और इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड डिजायन किया है। सबसे पहले इसका इस्तेमाल 2013 में नगालैंड विधानसभा चुनाव में हुआ था।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Amir

Happy Holi 2019: होली को मुगल काल में कहा जाता था ‘ईद-ए-गुलाबी’, जानें Holi से जुड़ी सभी मान्यताएं

Published

on

Happy Holi: Holi 2019 मार्च 21 को मनाई जाएगी. भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है होली (Happy Holi 2019) जिसे आम तौर पर लोग ‘रंगो का त्योहार’ भी कहते हैं. होली के साथ कई प्राचीन पौराणिक कथाएं भी जुड़ी हैं और हर कथा अपने आप में विशेष है

खास बातें
1. इस साल 21 मार्च को मनाई जाएगी होली.

2. आम तौर पर लोग ‘रंगो का त्योहार’ भी कहते हैं.

3. मुगल काल में होली (Holi) को ‘ईद-ए-गुलाबी’ कहा जाता था.

होली (Holi 2019) इस साल 21 मार्च को मनाई जाएगी. भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है होली (Happy Holi 2019) जिसे आम तौर पर लोग ‘रंगो का त्योहार’ भी कहते हैं. हिंदू पंचांग के मुताबिक फाल्गुन माह में पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. देश के दूसरे त्योहारों की तरह होली (Holi) को भी बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक माना जाता है. ढोल की धुन और घरों के लाउड स्पीकरों पर बजते तेज संगीत के साथ एक दूसरे पर रंग और पानी फेंकने का मजा देखते ही बनता है. होली (Holi 2019) के साथ कई प्राचीन पौराणिक कथाएं भी जुड़ी हैं और हर कथा अपने आप में विशेष है.

मुगल काल में होली (Holi) को ये कहा जाता था

यह रंगों का त्योहार कब से शुरू हुआ इसका जिक्र भारत की विरासत यानी कि हमारे कई ग्रंथों में मिलता है. शुरू में इस पर्व को होलाका के नाम से भी जाना जाता था. इस दिन आर्य नवात्रैष्टि यज्ञ किया करते थे. मुगल शासक शाहजहां के काल में होली (Holi 2019) को ईद-ए-गुलाबी के नाम से संबोधित किया जाता था.

होली (Holi 2019) पर शिव पार्वती की कहानी

होली (Holi 2019) को लेकर जिस पौराणिक कथा की सबसे ज्यादा मान्यता है वह है भगवान शिव और पार्वती की. पौराणिक कथा में हिमालय पुत्री पार्वती चाहती थीं कि उनका विवाह भगवान शिव से हो लेकिन शिव अपनी तपस्या में लीन थे. कामदेव पार्वती की सहायता के लिए आते और प्रेम बाण चलाकर भगवान शिव की तपस्या भंग करते थे.

शिवजी को उस दौरान बड़ा क्रोध आया और उन्होंने अपनी तीसरी आंख खोल दी. उनके क्रोध की ज्वाला में कामदेव का शरीर भस्म हो गया. इन सबके बाद शिवजी पार्वती को देखते हैं पार्वती की आराधना सफल हो जाती है और शिवजी उन्हें अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार कर लेते हैं. होली (Holi 2019) की आग में वासनात्मक आकर्षण को प्रतीकत्मक रूप से जला कर सच्चे प्रेम के विजय के उत्सव में मनाया जाता है

होली (Holi 2019) पर हिरण्यकश्यप की कहानी

वहीं, दूसरी पौराणिक कथा हिरण्यकश्यप और उसकी बहन होलिका की है. प्राचीन काल में अत्याचारी हिरण्यकश्यप ने तपस्या कर भगवान ब्रह्मा से अमर होने का वरदान पा लिया था. उसने ब्रह्मा से वरदान में मांगा था कि उसे संसार का कोई भी जीव-जन्तु, देवी-देवता, राक्षस या मनुष्य रात, दिन, पृथ्वी, आकाश, घर, या बाहर मार न सके.

Continue Reading

Amir

एक गिलास गर्म पानी, दूर करेगा कई परेशानी… गर्म पानी पीने के 10 फायदे

Published

on

Benefits of Drinking Hot Water: ऐसे बहुत से लोग हैं जिनके दिन की शुरुआत एक कप कॉफी या चाय से होती है. इन लोगों को यह पता भी होता है कि खाली पेट चाय या कॉफी के बहुत से नुकसान हो सकते हैं. लेकिन अक्सर सुबह-सुबह कुछ गर्म पीने की आदत से आसानी से छुटकारा नहीं मिल पाता. सुबह उठते ही चाय या कॉफी पीने से कब्‍ज, पेट दर्द, गैस, मुहांसे जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं. तो ऐसे में क्या है जो आपकी चाय या कॉफी की जगह भी ले सकता है और सेहतमंद भी साबित होगा. तो इसका जवाब है गर्म पानी… स्वस्थ बने रहने के लिए दिन में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीना जरूरी है. लेकिन सुबह का वह एक गिलास गर्म पानी ही आपकी बहुत मदद कर सकता है. जी हां, रोज सुबह एक गिलास गर्म पानी पीने के कई फायदे हैं. तो एक नजर इन्हीं फायदों पर…

1. अगर आप मोटापे से परेशान हैं और इसे कम करना चाह रहे हैं तो रोज सुबह एक गिलासा गर्म पानी आपके लिए मददगार साबित होगा. जी हां, जब आप एक गिलास गर्म पानी पीते हैं, तो इससे शरीर में जमा वसा समाप्‍त होती है. नतीजतन आपका वजन कम होने लगता है.

2. रोज सुबह गर्म पानी पीने से पाचन शक्ति दुरुस्त होती है. जो खाना अच्‍छे से पचाने या डाइजेस्‍ट करने में मददगार होगी और पूरी सेहत को सही बनाए रखेगी.

3. गर्म पानी ब्‍लड सर्कुलेशन को ठीक करता है. इतना ही नहीं गर्म पानी पीने से पूरे शरीर में फैले विषाक्त पदार्थ बाहर निकालते हैं.

4. बदलते मौसम में हेल्दी बने रहने के लिए रोज सुबह खाली पेट 1 गिलास गर्म पानी में नींबू डालकर पीएं, इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

5. अगर आपको कब्‍ज की शिकायत रहती है, तो भी गर्म पानी आपकी मदद करेगा. ऐसे में सुबह गर्म पानी पीना काफी फायदेमंद साबित हो सकता है.

6. अगर छाती में जकड़न या जुकाम शिकायत अक्सर रहती है, तो ऐसे में गर्म पानी दवा के रूप में काम आएगा. गर्म पानी पीने से आपका गला ठीक रहेगा और छाती में आराम मिलेगा.

7. कहते हैं कि पीरियड्स के दिनों में अगर आपको सिरदर्द की शिकायत रहती है तो गर्म पानी का सेवन करना लाभदायी होता (Garam Pani Ke 10 Fayde in Hindi) है. इतना ही नहीं गर्म पानी पेट की मांसपेशियों में ऐंठन को भी तुरंत ठीक करता है.

8. गर्म पानी पीने से एसिडिटी (Acidity) से निजात मिलती है. दरअसल एसिडिटी पेट खराब होने के कारण होती है. अगर आप रोज सुबह 1 गिलास गर्म पानी पीते हैं तो इससे आपका पेट ठीक रहेगा और आपका एसिडिटी जैसी समस्‍या का सामना नहीं करना पड़ेगा.

9. इन दिनों मौसम बदल रहा है, ऐसे में कई लोगों को गले में खराश की समस्‍या का सामना करना पड़ रहा है. अगर आप भी इस समस्‍या से परेशान हैं तो आज से ही गर्म पानी पीना शुरू कर दें. गर्म पानी गले की ड्राईनेस को खत्‍म करता है.

10. हो सकता है कि हर महीने होने वाले पीरियड्स में आप दर्द से परेशान रहती हों. ऐसे में हम आपको बताते हैं ऐसा उपाया जो आपकी इस परेशानी को दूर करेगा. इसमें राहत देगा गर्म पानी. इस दौरान गर्म पानी से पेट की सिकाई करने का काम करेगा और आपको आराम मिलेगा

Continue Reading

Amir

Happy Birthday Alia Bhatt: पापा की ‘परी’ ऐसे बनी बॉलीवुड की ‘पटाखा गुड्डी’,

Published

on

खास बातें
1. आलिया भट्ट हुईं 26 साल की

2. महेश भट्ट की बेटी हैं आलिया

नई दिल्ली: Happy Birthday Alia Bhatt: बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट (Alia Bhatt) 26 साल की हो चुकी हैं. मशहूर फिल्ममेकर महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) और एक्ट्रेस सोनी राजदान (Soni Razdan) के घर 15 मार्च, 1993 को जन्मी आलिया की गिनती उन सेलेब्स में होती है, जिन्होंने बेहद कम उम्र में इंडस्ट्री में अपनी खास पहचान बनाई है. 6 साल के अपने छोटे से करियर में अलग-अलग तरह के किरदार कर आलिया ने खुद को एक बेहतरीन एक्ट्रेस के तौर पर स्थापित किया है. शायद यही वजह है कि वह बॉलीवुड के कई सितारों की फेवरेट भी हैं. मुंबई में पली-बढ़ी आलिया भट्ट (Alia Bhatt) ने जमनाबाई नर्सरी स्कूल से पढ़ाई पूरी की. इसके बाद साल 2012 में धर्मा प्रोडक्शन्स की फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ से उन्होंने इंडस्ट्री में कदम रखा. फिल्म हिट रही और आलिया के करियर ने रफ्तार पकड़ी.

स बाद साल 2016 में आलिया भट्ट (Alia Bhatt) ने तीन हिट फिल्में दी. ‘कपूर एंड सन्स’ में उनके किरदार को पसंद किया गया. ‘उड़ता पंजाब’ में डी-ग्लैम अवतार में दिखीं आलिया की परफॉर्मेंस को सराहा गया. वही, शाहरुख खान के साथ फिल्म ‘डियर जिंदगी’ में उनकी जोड़ी खूब जमी.

अजय, अनिल, माधुरी की तिकड़ी का कमाल, ‘टोटल धमाल’ से कमाए इतने करोड़

2017 में फिल्म ‘बद्रीनाथ की दुल्हनियां’ के साथ उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर धमाकेदार वापसी की. फिलहाल, आलिया इन दिनों रणवीर सिंह के साथ फिल्म ‘बह्मास्त्र’ की शूटिंग में भी व्यस्त हैं. गुरुवार को आलिया भट्ट को एक और तोहफा मिला, जब मशहूर फिल्मकार एस राजामौली ने उन्हें अपनी अपकमिंग फिल्म के लिए कास्ट किया है.

अपने छोटे से करियर में आलिया ने न सिर्फ एक्टिंग की कला दिखाई, बल्कि उनकी सिंगिंग स्किल्स को भी काफी सहारा गया. उनके पास ब्रांड एंडोर्समेंट की कोई कमी नहीं है, साथ ही फैशन की दुनिया में आलिया हिट हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement

Trending