Connect with us

Hindi

केंद्र सरकार के खिलाफ चंद्रबाबू नायडू का धरना, राहुल गांधी-मनमोहन सिंह ने दिया समर्थन

Quis autem vel eum iure reprehenderit qui in ea voluptate velit esse quam nihil molestiae consequatur, vel illum qui.

Published

on

Photo: Google

तेलुगू देशम पार्टी के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने अपने राज्य को विशेष दर्जा दिलाने की मांग लेकर दिल्ली पहुंच गए हैं, जहां आंध्र भवन में एक दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। नायडू के इस अनशन कांग्रेस समेत दूसरे गैर एनडीए दलों का समर्थन मिलने लगा है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने धरनास्थल पर पहुंचकर नायडू की मांग का समर्थन किया।

चंद्रबाबू नायडू को समर्थन देने वाले नेताओं में सबसे पहले जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला पहुंचे। अब्दुल्ला के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी नायडू के समर्थन में पहुंचे उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं आंध्र प्रदेश की जनता के साथ खड़ा हूं, किस तरह के प्रधानमंत्री है नरेंद्र मोदी? पीएम ने आंध्र प्रदेश के लोगों से किया वादा पूरा नहीं किया। मिस्टर मोदी जहां भी जाते हैं लोगों से झूठ बोलते है, अब उनकी कोई विश्वसनीयता नहीं बची है।’




इस बीच आंध्र भवन में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने कहा, ‘आज हम केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने यहां आए हैं। धरने से एक दिन पहले प्रधानमंत्री आंध्र प्रदेश के गुंटूर आए थे। मैं पूछना चाहता हूं कि इसकी जरूरत क्या थी।’
इसके साथ ही उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को धमकी भरे लहजे में कहा कि अगर आप हमारी मांगें नहीं मानेंगे तो हमें मनवाना आता है। यह आंध्रप्रदेश के लोगों के स्वाभिमान का मामला है। जब भी वे हमारे स्वाभिमान पर हमला करेंगे हम उसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। मैं यह सरकार खासतौर पर पीएम को चेतावनी दे रहा हूं कि वो पर्सनल अटैक बंद करें।

Amir

खत्म हुआ इंतजार, इस दिन लॉन्च होगा 48MP कैमरे वाला Redmi Note 7

Published

on

Redmi Note 7 को 28 फ़रवरी को लॉन्च किया जाएगा. दरअसल, भारत में इसे 12 फरवरी को लॉन्च किया जाना था, जिसके लिए मीडिया इनवाइट भी भेजा जा चूका था, लेकिन बाद में बताया गया कि यह एक फेक मीडिया इनवाइट है. दरअसल, शाओमी इंडिया ने अपने ट्विटर हेंडल पर एक ट्वीट किया है, जिसमें कंपनी ने Redmi Note 7 को 28 फरवरी को लॉन्च करने की बात कही है. बता दें कि यह फोन चीन में पहले ही लॉन्च हो चूका है और कंपनी के आंकड़ों के मुताबिक महीने भर में इस फोन का 10 लाख युनिट्स बेचा जा चूका है.

Redmi Note 7 के संभावित फीचर्स
जैसा की हमने आपको बताया है कि चीन में यह फोन पहले लॉन्च हो चूका है, जिससे इसके फोन के फीचर्स का अंदाज़ा लगाया जा सकता है. इसमें 6.3 इंच की फुल एचडी एलटीपीएस डिस्प्ले है, जिसका रेसियो 19:5:9 है और इसमें 450 निट्स ब्राइटनेस, 84 परसेंट एनटीएससी कलर गेमट, कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 और 2.5डी कर्व ग्लास प्रोटेक्शन है. यह Qualcomm Snapdragon 660 octa-core SoC पर काम करेगा, इसमें 3 जीबी, 4 जीबी और 6 जीबी रैम का ऑप्शन मिला है जिसकी स्टोरेज 32 जीबी और 64 जीबी है. इसमें 48 मेगापिक्सल का डुअल कैमरा है, जिसमें सोनी IMX586 सेंसर भी है. इसमें 5 मेगापिक्सल का सेंसर भी है. ये शियोमी का पहला 48 मेगापिक्सल स्मार्टफोन होगा, जिसको लेकर मनु जैन ने पहले ट्विटर पर टीज़ भी किया है. इस फोन में फ्रंट कैमरा 13 मेगापिक्सल का है. इसके अलावा फोन में 4000 एमएएच बैटरी है और क्विक चार्ज सपोर्ट का ऑप्शन भी है. इसकी शुरुआती कीमत 9999 रुपए हो सकती है.

Continue Reading

Amir

20 के बाद मिलेगी ठंड से राहत पारा घटकर 12 डिग्री पर पहुंचा

Published

on

राजधानी भोपाल सहित राज्य के कई अन्य हिस्सों में सोमवार सुबह से आसमान में बादल छाए हुए हैं। वहीं, हवाएं ठंड का अहसास करा रही हैं। राज्य में हवा का रुख बदलने से मौसम में बदलाव आया है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तरी हवाएं चलने से ठंड फिर बढ़ी है। सोमवार की सुबह से धीमी गति से हवाएं चल रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार, आगामी 24 घंटों में राज्य के कई हिस्सों में बौछारें पड़ सकती है और ठंड का जोर बढ़ सकता है।

मौसम में उतार-चढ़ाव और धूप-छांव होने की वजह से अब लोग बीमार भी पड़ने लगे हैं। लोगों को सर्दी और जुकाम ने जकड़ लिया है।

अगले एक हफ्ते ऐसा रहेगा मौसम
18-19 फरवरी- रात का तापमान 10 से 12 डिग्री तक रहने की संभावना। 20, 21 फरवरी- को रात का तापमान 12 से 15 डिग्री तक पहुंच सकता है। दिन का तापमान 30-31 डिग्री पार जा सकता है। 22-23-24 फरवरी- दिन और रात के तापमान में 2 से 4 डिग्री तक गिरावट संभव।

Continue Reading

Amir

पेड़-पौधे लगाने में सबसे आगे हैं भारत और चीन

Published

on

नासा के एक ताजा रिसर्च में आम अवधारणा के उलट यह पाया गया है कि भारत और चीन पेड़ लगाने
के मामले में विश्व में सबसे आगे हैं। इस अध्ययन में सोमवार को कहा गया कि दुनिया 20 वर्ष पहले
की तुलना में अधिक हरी-भरी हो गई है। नासा के उपग्रह से मिले आंकड़ों एवं विश्लेषण पर आधारित
अध्ययन में कहा गया कि भारत और चीन पेड़ लगाने के मामले में आगे हैं। नासा के अध्ययन में कहा
गया है कि चीन वनों (42 प्रतिशत) और कृषिभूमि (32 प्रतिशत) के कारण हरा भरा बना है जबकि भारत
में ऐसा मुख्यत: कृषिभूमि (82 प्रतिशत) के कारण हुआ है। इसमें वनों (4.4 प्रतिशत) का हिस्सा बहुत कम
है। चीन भूक्षरण, वायु प्रदूषणऔर जलवायु परिवर्तन को कम करने के लक्ष्य से वनों को बढ़ाने और उन्हें
संरक्षित रखने के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम चला रहा है। भारत और चीन में 2000 के बाद से खाद्य उत्पादन
में 35 प्रतिशत से अधिक बढ़ोतरी हुई है। नासा के अमेस अनुसंधान केंद्र में एक अनुसंधान वैज्ञानिक और
अध्ययन की सह लेखक रमा नेमानी ने कहा, ‘जब पृथ्वी पर वनीकरण पहली बार देखा गया तो हमें लगा
कि ऐसा गर्म और नमी युक्त जलवायु और वायुमंडल में अतिरिक्त कार्बन डाईऑक्साइड की वजह से
उर्वरकता के कारण है

Continue Reading
Advertisement
Advertisement

Trending